एप्पल खबर स्मार्टफोन्स

पहली तिमाही में ऐप्पल ने दर्ज किये $18.4 बिलियन के मुनाफ़े, बेचे लगभग 75 मिलियन iPhones

भले ही iPhone की बिक्री अनुमान से कम हो गयी हो, पर Apple ने अपना पिछला रिकॉर्ड तोड़ते हुए किसी भी पबलिक कंपनी द्वारा अभी तक का सबसे बड़ा मुनाफ़ा कमाने की घोषणा करी।

जहां दुनिया अनुमान लगा रही थी कि कंपनी ने बहुत कम iPhone बेचे हैं, संभावित 75.4 से 77 मिलियन के करीब, Apple ने करीब 74.8 मिलियन iPhone बेचने में सफलता प्राप्त करी, जो कि इनके लक्ष्य के कुछ हज़ार iPhone ही पीछे था।

कंपनी ने कुल $76.9 बिलियन का क्वार्टरली रेवेन्यू पोस्ट किया, जो कि $18.4 बिलियन का मुनाफ़ा या, $3.28 प्रति डाइल्यूट किये शेयर को दर्शाता है। यह आय पिछले साल की तिमाही में $74.5 बिलियन की कमाई पर $18 बिलियन या $3.06 प्रति डाइल्यूट किये शेयर के मुनाफ़े को टक्कर दे रही है। पिछले क्वार्टर के 39.9% से बढ़ कर ग्रोस मार्जिन 40.1% था।

एक और कमाल की बात यह देखी गयी कि इस रेवेन्यू में 66% हिस्सा अंतर्राष्ट्रीय सेल से कमाया हुआ है-शायद सभी कंपनियों में सबसे अधिक, वैश्विक रूप से।

Apple के $200 बिलियन कैपिटल रिटर्न प्रोग्राम के बारे में बताते हुए सी.एफ.ओ. लूका मास्त्री ने कहा कि वह पहले ही $153 बिलियन का प्रोग्राम पूरा कर चुके हैं। Apple ने $27.5 बिलियन का क्वार्टर जनरेट किया और शेयर दोबारा खरीद कर व डिविडेंड के ज़रिये निवेशकों को $9 बिलियन वापस किये।

Apple के बोर्ड ऑफ़ डायरेक्टरों ने कंपनी के कॉमन स्टॉकों में $0.52 प्रति शेयर का डिविडेंड निर्धारित किया है। यह डिविडेंड 11 फ़रवरी, 2016 को ऐसे शेयरहोल्डरों के दिया जायेगा जो कि 8 फ़रवरी, 2016 को शेयरहोल्डर के रूप में कंपनी के रिकॉर्ड में दिखेंगे।

Apple अपने वित्तीय वर्ष 2016 की दूसरी तिमाही में यह लक्ष्य साध कर चल रही है:

  • $50 व $53 बिलियन के बीच रेवेन्यू
  • 39% व 39.5% के बीच ग्रोस मार्जिन
  • $6 बिलियन से $6.1 बिलियन का ऑपरेटिंग का खर्च
  • दूसरी आय/(व्यय) $325 मिलियन के करीब 25.5% का कर दर

 

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह साफ़ तरह से स्पष्ट हो गया है, की प्रौद्योगिकी विकास हमारी मानवता को पार कर चुका है |
अल्बर्ट आइंस्टीन