खबर स्टार्टअप्स

कार पूलिंग स्टॉर्टप Orahi ने इंडियन एंजेल नेटवर्क से सीड राउंड में 450 हज़ार डॉलर का निवेश किया प्राप्त

कार पूलिंग निश्चित रूप से भारत मे ट्रैफ़िक की समस्या को हाल कर सकती है और निवेशकों ने भी इसे समझना शुरू कर दिया है। इस तथ्य के साथ गुड़गाँव स्थित कार पूलिंग स्टॉर्टप Orahi ने अपने सीड राउंड में भारतीय एंजल निवेशकों (IAN) से 450000 डॉलर का निवेश प्राप्त किया है। इस डील के अंतर्गत IAN के विनिश कथूरिया और अमनदीप गुप्ता कम्पनी के बोर्ड ऑफ़ डिरेक्टर्स में शामिल होंगे।

ये नया प्राप्त वित्त कम्पनी उत्पाद सुविधाओं और क्षमताओं को बढ़ाने के साथ साथ राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में अपनी टीम के विस्तार व प्रचार करने में इस्तेमाल किया जाएगा। Orahi की योजना अपनी टीम को फ़िलहाल के 15 लोगों से बढ़ा कर 40 लोगों की करेंगे की है। ये मुंबई, पुणे, बेंगलुरु और हैदराबाद में भी अपने मंच को मजबूती देगा।

इस विकास के बारे में टिप्पणी करते हुए Orahi के सह संस्थापक और CEO समीर खन्ना ने कहा

दिल्ली सरकार के आड ईवेन के नियम को और कई ज़िम्मेदार नागरिकों की चिंता को देखते हुए दिल्ली में कार पूलिंग की माँग अपने चरम पर पहुँच गयी है। ये निवेश हमें एक बहुत महत्वपूर्ण समय पर मिला है। इस निवेश के साथ हम हम उचित रूप से मंच के निर्माण की योजना बना रहे हैं।

2012 में समीर खन्ना और अरुण भाटि द्वारा स्थापित कम्पनी अपने उपभोक्ताओं को एक ऐसा मंच उपलब्ध कराती है जहाँ वो अपने दोस्तों, सहकर्मियों और पड़ोसियों के साथ सवारी साझा कर के यात्रा कर सकते हैं। ये अपने मंच पर 45,000 से ज़्यादा उपयोगकर्ता होने का दावा करती है जिनमें कार मालिक व यात्री दोनो शामिल हैं। कम्पनी के कारपोरेट कनेक्ट कार्यक्रम के अंतर्गत 500 कम्पनियों ने इसे चुना है।

फ़िलहाल कम्पनी प्रत्येक यात्री से 3.50 रुपय एक किलोमीटर का ले रही है और ये राशि जब तक की यात्रा पूरी ना जो जाए और दोनो पक्षों की सहमति ना मिल जाए अलग रखती है। 3 रुपय मालिक को मिल जाते हैं व शेष 50 पैसा Orahi रखता है। इसमें कोई सदस्यता शुल्क नहीं हैं और शुल्क भी प्रत्येक यात्रा के हिसाब से है।

इस निवेश पर बोलते हुए इंडिया एंजल नेट्वर्क़्स के विनिश कथूरिया ने कहा

हम टीम में और इस मंच में एक अच्छी सम्भावना देख रहे हैं। Orahi पिछले ढाई साल में अच्छा व्यापार करने में सक्षम भी हो पाया है।

देश की राजधानी में आड ईवेन का नियम लागू होने के बाद ऑनलाइन कार पूलिंग सेवा विशेष रूप से बढ़ गयी है। PWC की एक रिपोर्ट के अनुसार वैश्विक कार पूलिंग बाज़ार का मूल्याँकन अभी लगभग 15 बिल्यन डॉलर के क़रीब है और 2025 तक इसके 335 बिल्यन डॉलर होने की उम्मीद है।

भारत में इस तरह की समान सेवाएँ देने वालों में Mebuddies, Poolcircle, और Let’sride आदि शामिल हैं। फ़्रान्स स्थित blablacars ने भी पिछले साल भारत में अपना परिचालन शुरू किया है जबकि Ola और uber भी कुछ शहरों में इस तरह की सेवाएँ दे रहे हैं।

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह साफ़ तरह से स्पष्ट हो गया है, की प्रौद्योगिकी विकास हमारी मानवता को पार कर चुका है |
अल्बर्ट आइंस्टीन