खबर स्टार्टअप्स

500 स्टॉर्टप्स करेगा अपने भारत केंद्रित स्टॉर्टप फ़ंड स्टॉर्टपवल्लाह (StartupWallah) शुरू करने की योजना पर पुनर्विचार

ऐसे समय, जब प्रमुख निवेश समूहों ने भारत केंद्रित फ़ंड या तो लॉंच कर दिए हैं या लॉंच करने की योजना बना रहे हैं, भारत के स्टॉर्टप्स के प्रमुख निवेशकों में से एक 500 स्टॉर्टप्स कथित तौर पर अपने भारत केंद्रित स्टॉर्टप फ़ंड स्टॉर्टपवल्लाह (StartupWallah) शुरू करने की निर्णय पर पुनर्विचार कर रहा है।

एकनॉमिक्स टाइम्ज़ की एक रिपोर्ट के अनुसार अनाम सूत्रों का हवाला देते हुए व अपना नाम लेने से मना करते हुए बताया है कि startupwallah 500 स्टॉर्टप्स द्वारा भारत केंद्रित माइक्रो फ़ंड शायद हक़ीक़त में ना आ पाए। Startupwallah पिछले साल 500 स्टॉर्टप्स द्वारा मार्च में स्थापित किया गया था जो की साल के मध्य में अधिकारिक रूप से लॉंच होना था।

ये पिछले साल 10 से 12 स्टॉर्टप्स में निवेश करने के लिए बनाया गया था। कम्पनी भी कथित तौर पर इस इकाई के लिए 10 से 20 करोड़ डॉलर जुटाने की योजना बना रही है। हालाँकि इनमें से कुछ भी नहीं हो पाया।

और अब ऐसा लग रहा है की कम्पनी ने इन योजनाओं पर कुछ देर के लिए विराम लगा रखा है। अपने नवीनतम वैश्विक फ़ंड के लिए धन जुटाने में हुए संघर्ष ने उनकी पूरी रणनीति बदल दी है। इसलिए भारत केंद्रित फ़ंड के लिए चल रही बातें पिछले 6 से 12 महीनो में काम होते होते व्यावहारिक रूप से नगण्य हो गयी है।

एक अनाम सूत्र ने एकनामिक्स टाइम्ज़ को बताया

500 स्टॉर्टप लोकप्रिय स्टॉर्टप त्वरक और निवेश समूहों में से एक है और ये मुख्य रूप से शुरुआती सीड चरण में निवेश पर केंद्रित है। इसने लगभग 50 देशों में 1000 स्टॉर्टपों में निवेश किया है। ये ख़ास तौर पर विकास की गुंजाइश वाले बाज़ारों जैसे भारत, मेक्सिको, और ब्राज़ील पर ध्यान केंद्रित करता है।

भारत में ये अपने वैश्विक कोष से 2011 से निवेश कर रहा है और अभी तक 30 लोकप्रिय स्टॉर्टप्स जैसे walletkit, tradebriefs, instamojo, zipdial( ट्विटर द्वारा अधिग्रहीत) , pricebaba और gazemetrix आदि में निवेश कर चुका है।

2012 में भी 500 स्टॉर्टप के संस्थापक Dave McClure ने भी भारत केंद्रित फ़ंड जुटाने की कोशिश की थी पर बाद में अपरिपक्व बाज़ार का हवाला देते हुए उसे ठंडे बस्ते में डाल दिया।

भारत के लिए Startupwalah माइक्रो फ़ंड 500 स्टॉर्टप द्वारा दक्षिण पूर्व एशिया के लिए निर्धारित दूसरे माइक्रो फ़ंड्ज़ की तर्ज़ पर होना चाहिए था।इनमें 15 मिल्यन डॉलर का साउथ कोरिया फ़ंड जिसका नाम 500 kimchis है और दक्षिणपूर्व एशिया फ़ंड जिसका नाम 500 Durian है आदि शामिल है।

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह साफ़ तरह से स्पष्ट हो गया है, की प्रौद्योगिकी विकास हमारी मानवता को पार कर चुका है |
अल्बर्ट आइंस्टीन