खबर स्टार्टअप्स

Netflix अगले हफ़्ते ही कर सकता है अपने भारतीय लांच की घोषणा

वीडियो स्ट्रीमिंग के प्रशंसकों के लिए ख़ुशख़बरी- अमेरिका स्थित विशालकाय स्ट्रीमिंग कम्पनी Netflix जल्द ही अपनी सेवाए भारत मैं शुरू करने जा रहा है। Netflix जल्दी ही अगले हफ़्ते होने वाले ट्रेड शो CES 2016 में अपने भारत आगमन की घोषणा कर सकती है।

ये घोषणा ख़ास तौर पर महत्वपूर्ण है क्यूँकि ये एक ऐसे समय आया है जब 4G की तरफ़ बढ़ता रुझान इंटर्नेट स्पीड में तेज़ी लाने का वायदा करता है। भारत में जहाँ कुल 2014 में 15418 मिनट के विडीओज़ डाउनलोड किए गए थे ख़राब गुणवत्ता सबसे बड़ा कारण था की Netflix और अन्य दूसरे भारत में अपनी सेवाएँ देने को नज़रान्दाज कर रहे थे।

वास्तव में hindubuissnessline द्वारा प्राप्त रिपोर्ट्स के अनुसार कम्पनी एक अनाम टेलिकॉम कम्पनी के साथ साझेदारी में उतर गया है व अब अपनी सेवाएँ इस 4G ऑपरेटर का उपयोग कर के प्रदान करेगा। वैसे तो कुछ प्रदाता चुपचाप 4G का विकास कर रहे हैं पर फिर भी भारत में अभी फ़िलहाल सिर्फ़ दो ही प्रदाता Airtel और reliance ही हैं जो 4G सुविधा प्रदान कर रहे हैं या करने वाले हैं।

भारत के साथ साथ साउथ कोरिया , सिंगापुर , हॉंगकॉंग, और ताइवान अन्य बाज़ार हैं जहाँ Netflix अंतर्राष्ट्रिय बाज़ार में अपनी उपस्थिति दर्ज कराने की योजना में है।

लगता है इंटर्नेट की पहुँच व ये तथ्य की भारत में इंटर्नेट की खपत व बहुत तेज़ी से बढ़ गयी है ही ने Netflix ने अपनी शुरुआती हिचक दूर कर के इस बाज़ार में आने को प्रेरित किया है। अमेरिका में कम्पनी एक महीने फ़िल्में व tv शो दो स्क्रीन्स पर एक ही समय में देखने के लिए 8.99 डॉलर के आस पास का शुल्क लेता है। ये मानते हुए कि भारत में भी इसकी क़ीमत कम ही रहेगी। वैसे भी कम्पनी ये सेवाएँ बहुत महंगी करने के उद्देश्य से नहीं ला रही हैं।

वैसे इस कम्पनी को पहले से उपस्थित सेवा प्रदाताओं जैसे bigflix( Reliance) , Youtube के movie rentals और सिंगापुर स्थित Hooq आदि से कड़े प्रतिरोध का सामना करना पड़ सकता है। Netflix अपने सब्स्क्रिप्शन आधारित अनुभव के साथ साथ अत्याधुनिक प्रोदयोगिकी का भरोसा कर के ही इन पर बढ़त हासिल कर सकता है।

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह साफ़ तरह से स्पष्ट हो गया है, की प्रौद्योगिकी विकास हमारी मानवता को पार कर चुका है |
अल्बर्ट आइंस्टीन