खबर स्टार्टअप्स

Town essential ने ग्राहक अधिग्रहण के लिए एंजेल निवेश में प्राप्त किए 1 मिलियन डॉलर

बेंगलोर स्थित स्टॉर्टप Town Essential, जो की ऑनलाइन मंच के द्वारा किराने के सामान की डिलीवरी करता है, ने अपने एंजेल निवेश में निवेशकों के समूह से 1 मिल्यन डॉलर का निवेश प्राप्त किया है। इस राउंड का नेतृत्व शरद हेगड़े ने किया व अन्य भागीदारों में गिरीश रेड्डी, सिद्धार्थ पाटिल व श्रिकांत पाटिल आदि थे।

इस नए प्राप्त निवेश के द्वारा कम्पनी का उद्देश्य अपनी ग्राहक अधिग्रहण के लिए मार्केटिंग गतिविधियों को बढ़ाना है। इस निवेश सत्र को जोड़ के कम्पनी ने अब तक लगभग 12 करोड़ रूपए का निवेश प्राप्त किया है।

Town essential के संस्थापक व CEO अमर मुर्थी के अनुसार :

हम नए उत्पादों को अपने साथ जोड़कर प्राइवट लेब्ल्स को और अधिक मजबूत बनाने विनिर्माण में सुधार व विज्ञापनों पर और अधिक काम करेंगे।

2003 में अमर द्वारा स्थापित बहुत सारे इस जैसे ही स्टॉर्टप की तरह किराना डिलिवर करने का काम करेंगे। इस स्टॉर्टप का लक्ष्य भारत के खेतों और रसोई में उपलब्ध समानो को खोजने में मदद करना व उन्हें साझा करना है। वर्तमान में कम्पनी में लगभग 120 लोग कार्यरत हैं और कम्पनी रोज़ लगभग 200 ऑर्डर्स मिलने का दावा करती है।

कम्पनी की कार्यप्रणाली बहुत ही आसान है। उपभोक्ता कम्पनी की ऑनलाइन सूची व कम्पनी के in-house कॉल सेंटर में कॉल के द्वारा ऑर्डर कर सकते हैं। जैसे ही उपभोक्ता अपना ऑर्डर देते हैं town essentials के कर्मचारी बाज़ार से वो चीज़ें डिलिवर करने के लिए ले आते हैं।

Town essential ने morning drop नाम का एक नया मंच भी लॉंच किया है जो सब्स्क्रिप्शन आधारित उत्पादों जैसे की दूध, ब्रेड व अंडों आदि पर ध्यान देगा। इसके साथ ही कम्पनी का लक्ष्य अपने ग्राहक आधार को 10,000 तक बढ़ाने व ग्राहकों के ऑर्डर के लिए मोबाइल ऐप्लिकेशन लॉंच करने की भी योजना है।

चूँकि इस जैसे अन्य स्टरतपस भी निवेश प्राप्त करने के प्रयास में लगे हुए है अतः यहाँ कड़ी प्रतिस्पर्धा है। पर फिर भी ऐसे कई नए स्टरतपस हैं जैसे Myonsto, Lookup, Jiffstore आदि जिन्होंने इस क्षेत्र में काफ़ी अच्छा निवेश प्राप्त किया हुआ है। Big basket और grofers सिर्फ़ अपने दैनिक ऑर्डर्ज़ या कार्य प्रणाली की वजह से ही नहीं पर मिलने वाले भारी समर्थन की वजह से बड़े स्टॉर्टप्स में से एक हैं।

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह साफ़ तरह से स्पष्ट हो गया है, की प्रौद्योगिकी विकास हमारी मानवता को पार कर चुका है |
अल्बर्ट आइंस्टीन