खबर गूगल

Google अगले दो साल में 30 यूनवर्सटीज़ के साथ साझेदारी कर 20 लाख से अधिक डिवेलपर्ज़ को करेगा प्रशिक्षित

नयी दिल्ली में Pullman aerocity में हुई गूगल की प्रेज़ेंटेशन अभी तक की सबसे लुभावनी प्रस्तुति थी। लुभावनी इसलिए क्यूँकि अभी तक किसी भी अमेरिकन कम्पनी ने इतने बड़े स्तर पर भारत के लिए किसी इवेंट का आयोजन नहीं किया और उससे भी बड़ी बात की ये आयोजन भारत में ही किया गया था।

इसमें गूगल द्वारा की गयी सबसे महत्वपूर्ण व संभवतया अकेली घोषणा थी : अगले 2 सालों में 30 विश्वविद्यालयों के साथ मिलकर 20 लाख से अधिक डिवेलपर्ज़ को ट्रेन करने की अपनी प्रतिबद्धता ज़ाहिर की है। वैसे तो पिचई ने इसके पहल के बारे में ज़्यादा जानकारी नहीं दी पर ये योजना अगले साल के शुरुआत में ही शुरू होने की सम्भावना है।

भारत में निवेश करना बहुत ही  तर्किक है क्यूँकि जो हम यहाँ शुरू कर रहे हैं वो वैश्विक रूप से लाभप्रद होगा।

पिचई ने कहा

उन्होंने गूगल द्वारा शुरू की गयी दूसरी पहलों के बारे में और बताया जो भारतीय उपभोक्ताओं और भारतीय बाज़ार को ध्यान में रखते हुए लिए लिए गए हैं। उदाहरण ke लिए मैपमेकर जो की बैंगलोर में दो गूगल इंजीनेयर्स द्वारा बनायी गयी है और जो गूगल और भारत के लिये बहुत ही प्रासंगिक है। पिचई ने कहा की समुदाय आधारित मानचित्रण गूगल का भारत में एक बहुत महत्वकांक्षी प्रॉजेक्ट है।

उन्होंने आगे गूगल की भारतीय रेल्वे से साझेदारी के बारे में बात की जो अभी तक का सबसे बड़ा वाइफ़ाई प्रोजेक्ट है- Railwire। Railwire के द्वारा गूगल का लक्ष्य भारत के 400 स्टेशन को हाई स्पीड वाइफ़ाई के द्वारा आपस में जोड़ना है।

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह साफ़ तरह से स्पष्ट हो गया है, की प्रौद्योगिकी विकास हमारी मानवता को पार कर चुका है |
अल्बर्ट आइंस्टीन