खबर डिजिटल इंडिया स्टार्टअप्स

Fin-tech स्टॉर्टपस के लिए लाइव ट्रेडिंग और इंवेस्टमेंट मंच के निर्माण के लिए Zerodha ने Kite Connect API का किया लॉंच

एक ऑनलाइन ब्रोकरिज फ़र्म Zerodha ने वित्तीय तकनीकी स्टॉर्टपों के लिए application programing interface API ,Kite कनेक्ट उपलब्ध होने की घोषणा की है। ये Rest जैसी APIs हैं जो की सम्पूर्ण निवेश और व्यापार मंच का निर्माण करने के लिए आवश्यक क्षमताओं को उजागर करती हैं।

कम्पनी का लक्ष्य kite connect के माध्यम से पूरी ब्रोकिंग़ संरचना को सरल बनाना व फ़िन-टेक स्टॉर्टपस को ब्रोक़रिंग एक सेवा के रूप
में उपलब्ध कराना है।

Kite Connect के माध्यम से हमारा लक्ष्य निवेशों को commodities ,democratise करना और नई नस्ल के स्टरतपस और उत्पादों को जो की अभी कई सारी बाधाओं के कारण सामने नहीं आ पाए है सामने लाना है।

पूरी बोर्किंग संरचना , शुरू से ले कर अंत, अकाउंट खोलने की काग़ज़ी कार्यवाही और KYC , शेयर बाज़ार में कॉनेटिविटी और निष्पादन आदि API के आसान चरणों के अंतर्गत आते है। Zerodha के मुख्य प्रौद्योगिकी अधिकारी कैलाश नाथ के अनुसार KITE pluggable फ़ायनैन्शल टेक्नालजीज़ का एक परिस्थितिकि तंत्र है जिसे Zerodha निवेश करने, डिवेलपर्ज़ के लिए उपलब्ध व्यापार निष्कासन क्षमताओं के विकास के लिए ला रहा है जहाँ इस पर अमल करना सोशल मीडिया मंच पर प्लगिंग के इस्तेमाल जितना आसान है।

KITE का इस्तेमाल कर के तकनीकी आधार वाली वित्तीय कम्पनियाँ अपने ऑर्डर रियल टाइम में पूरा करना,ग्राहकों के पॉर्ट्फ़ोलीओज़ का प्रबंधन, लाइव बाज़ार के आँकड़ो और बहुत सारी चीज़ें इस आसान HTTP API संग्रह के साथ कर सकती हैं।

Zerodha के अनुसार भारतीय आबादी की 0.1% से भी कम आबादी सक्रिय रूप से पूँजी बाज़ार में भाग लेती है। बाक़ी 99.9% आबादी के बाज़ार से मिलने वाला लाभ डिवेलपर्ज़ और कम्पनियों के लिए बाद अवसर है।

ये सक्रिय व्यापारियों को वित्तीय उत्पादों को ख़रीदने बेचने जैसे की स्टॉक्स, futures और ऑप्शंज़ को , करेन्सीज़ और कमोडिटीज़ को इससे पहले इस्तेमाल में नहीं आए ब्रोकरिज फ़्री मॉडल को उपलब्ध कराती है जिससे कि ग्राहकों को अधिक से अधिक लाभ व मूल्य मिल सके।

KITE के अलावा ये उन्नत ट्रेडिंग मंच जैसे PI और ज्ञान आधारित रिपोर्टिंग टूलस जैसे Q और Quant भी उपलब्ध कराता है भविष्य में Zerodha का उद्देश्य KITE Connect को वेंचर कैपिटल निवेशकों ,IIM IIT व एंजेनीरिंग के छात्रों के साथ इस अवसर के बारे में चर्चा करने का है।

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह साफ़ तरह से स्पष्ट हो गया है, की प्रौद्योगिकी विकास हमारी मानवता को पार कर चुका है |
अल्बर्ट आइंस्टीन