खबर स्टार्टअप्स

अंतर्राष्ट्रीय विस्तार करने के लिए Cardekho की मूल कंपनी GirnarSoft की और अधिग्रहण करने पर नज़र

Cardekho की मूल कंपनी GirnarSoft अपने वैश्विक विस्तार के लिए अधिग्रहण करने की शृंखला के अंतर्गत, मार्च तक पाँच और कंपनियों का अधिग्रहण करेगी। पहले से ही Cardekho की 25 देशों में Carbay नाम से शृंखला है।

यह विस्तार अभी एशिया-प्रशांत क्षेत्र में होगा और बाद के चरण में मध्य पूर्व और लैटिन अमेरिकी क्षेत्र शामिल होंगे।

कंपनी का मानना ​​है ये क्षेत्र अभी भी प्रौद्योगिकी के मामले में भारत से 4-5 साल पीछे हैं और इसलिए वृद्धि और विकास के लिए यहाँ पर अपार संभावनाएँ हैं। कंपनी ने इन क्षेत्रों के लिए भर्ती प्रक्रिया शुरू कर दी और फरवरी से बिक्री प्रक्रिया शुरू करने की उम्मीद की है।

दूसरी ओर भारत में, इस साल Cardekho ने मूल्य वर्धित सेवाएं प्रदान करने और इस्तेमाल की हुई कारों के लिए एक महत्वपूर्ण मंच के रूप में खुद को स्थापित करने के बाद अपने कारोबार के विविधीकरण पर भारी ध्यान केंद्रित किया है। इसके अंतर्गत उनके मंच का विस्तार नई कारों के लिए, tyredekho.com, pricedekho.com और TrucksDekho शुरू करने, और सामान और बीमा कवर उपलब्ध करना आदि शामिल हैं।

अब यह सड़क के किनारे उपस्थित सहायता सेवाएं शुरू करने की योजना बना रहा है जैसे फ्लैट टायर बदलना, खराब बत्टेरियों को बदलना,खराब गाड़ी को खींच के ले जाना व चिकित्सा सहायता उपलब्ध कराना आदि.

हम ने यह अवसर दिखा की आपात स्थिति में वाह्न टूटने के मामले में हमेशा मदद की जरूरत पड़ती है, और उस समय सड़क पर विश्वसनीय मदद खोजनी बहुत मुश्किल होती है।

Cardekho के मुख्य विपणन अधिकारी एल.के. गुप्ता ने कहा

यह सेवाएँ जनवरी 2016 तक मुंबई और कुछ अन्य शहरों में शुरू होने की उम्मीद हैं और 999-1,699 के वार्षिक सदस्यता शुल्क के माध्यम से ये उपयोगकर्ताओं के लिए उपलब्ध होगी.

Cardekho ने अपने कारोबार का विस्तार करने के लिए इस साल कई महत्वपूर्ण अधिग्रहण किए है। इसमें अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी Zigwheels और वेबसाइट BuyingIQ के हाल के अधिग्रहण के साथ ही ऑनलाइन बीमा मंच Coverfox के साथ रणनीतिक साझेदारी शामिल हैं।

असल में इस साल में, ऑनलाइन ऑटो वर्गीकृत बाजार तेजी से बढ़ा है और कई अधिग्रहण और निवेश प्राप्त करने के दौर के साथ मजबूत हुआ है. CarDekho के अधिग्रहण के अलावा इसके प्रतिद्वंद्वी CarTrade ने एक छोटे प्रतिद्वनधी CarWale का 30 मिलियन डॉलर में अधिग्रहण किया है.

जहां तक ​​निवेश का सवाल है, इस वर्ष की शुरुआत में, CarDekho ने श्रृंखला बी के निवेश के दौरान $ 50 मिलियन का निवेश प्राप्त किया था जिसका नेतरत्व चीनी निवेश प्रबंधन फर्म Hillhouse Capital और हांग-कांग आधारित Tybourne ने किया था जिसके बाद में रतन टाटा और एचडीएफसी बैंक से भी निवेश प्राप्त हुआ CarDekho के अलावा नए खिलाड़ियों जैसे CredR और Truebil के को भी इस साल 15,000,000 डॉलर और 500 डॉलर का निवेश प्राप्त हुआ

भारत में कार किराए पर लेने और खरीद के व्यापार में काफ़ी हलचल दिखाई दे रही है. ई-कॉमर्स पोर्टल स्नैपडील ने भी दो और चार पहिया वाहनों की बिक्री के लिए विशेष रूप से समर्पित स्नैपडील मोटर्स नामक एक सहायक मंच का शुभारंभ किया है और अगले दो साल के भीतर ऑटोमोबाइल की 2 अरब डॉलर की बिक्री का लक्ष्य रखा है।

.

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह साफ़ तरह से स्पष्ट हो गया है, की प्रौद्योगिकी विकास हमारी मानवता को पार कर चुका है |
अल्बर्ट आइंस्टीन