इलेक्ट्रानिक्स खबर स्टार्टअप्स

Wearable-टेक स्टार्टअप GOQii ने सीरीज A में अर्जित किया $13.4 मिलियन का निवेश, चीन में विस्तार की तरफ अग्रसर

पूर्व इंडियागेम्स के सीईओ विशाल गोंडल की पहनने योग्य फिटनेस कोचिंग डिवाइस बना रही कंपनी GOQii ने $13.4 मिलियन का निवेश अर्जित करने की घोषणा करी है। यह सीरीज-ए सत्र का निवेश है, जिसका नेतरत्व न्यू एंटरप्राइज़ असोसीयेट्स द्वारा किया गया था व अन्य भागीदारों में Cheetah Mobiles, Great Wall Club (GWC), चाइनीस और अमेरिकन इन्वेस्टर्स के समूह और DSG Consumer Partners शामिल है।

2014 में विशाल गोंडल द्वारा स्थापित GOQii ने अभी तक इस सीरीज को मिला कर इसके रिस्क कॅपिटल के रूप में 20 मिलियन डॉलर्स का निवेश प्राप्त किया है। इससे पहले कंपनी ने प्रमुख निवेशकों और उद्यमियों विजय शेखर शर्मा और नीरज अरोड़ा से पूंजी जुटाई थी।

GOQii के लिए महत्वपूर्ण इस दौर का नेतरत्व चीन के हार्डवेयर सेगमेंट के सबसे बड़े उद्यमी चीता मोबाइल द्वारा किया गया, जिससे की GOQii का भारत के उत्तर पड़ोसी चीन में विस्तार करना आसान हो गया। यह निवेश अभी तक चीनी कंपनियों के भारतीय स्टारटूप्स में बड़े व गंभीर निवेश का एक और उदाहरण है।चीनी कंपनियों के भारतीय स्टारटूप्स में निवेश जैसे की Snapedeal व Paytm में निवेश के साथ ही लोगो का ध्यान अपनी तरफ आकर्षित किया था।

हार्डवेयर स्टारटूप्स भारत में खोजने मुश्किल हैं। हालाँकि हमारे पास GOQii और TeeWee जैसे उपभोक्ता इलेक्ट्रॉनिक्स के छेतर में अच्छी तरह से वित्त पोषित स्टारटूप्स का एक समूह है, लेकिन यह संख्या सिलिकॉन वैली में या चीन में उपस्थित समूह से बहुत कम है। GOQii द्वारा इस दौर में उठाए गए निवेश से भारतीय स्टार्टअप के हार्डवेर खंड को एक बड़ा मौका मिल सकता है।

GOQii ने बताया की यह पहनने योग्य उन्नत प्रौद्योगिकी, विशेषज्ञों, कोचों और कर्म के संयोजन के साथ एक स्वस्थ जीवन शैली के लिए एक स्थायी बदलाव को सक्षम करने के लिए समर्पित है। GOQii ने कहा की इसका लक्ष्य दुनिया भर के लाखों लोगों को उनकी अप्रयुक्त क्षमता को महसूस कराना है।

इस कंपनी में 100 से अधिक लोग कार्यरत हैं व और अमेरिका, मध्य पूर्व और एशिया के 1000 से अधिक कोच इसके मंच पर हैं जो उपभोक्ताओं क मोबाइल application के माध्यम से मार्गदर्शन करते हैं। ये अपने प्लॅटफॉर्म पर 1 लाख से अधिक उपयोगकर्ता होने का दावा करता है जो 3 महीने के कोचिंग प्लान के लिए 4000 रुपय का शुल्क अदा करते हैं।

GOQii को ये तथ्य और अधिक रोचक बना देता है की इसके फिटनेस समाधान को तीसरे पक्ष की 35 कंपनियों जैसे Jawbone, Fitbit, Misfit में से किसी के भी साथ एकीकृत किया जा सकता है। ये कंपनी को दुनिया भर में बहुत जल्दी अपना बाज़ार बनाने में मदद करेगा।

विशाल गोंडल, GOQii के संस्थापक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी ने कहा,

हम विदेशों जैसे चीन जैसे देशों में विस्तार करना चाहते हैं, लेकिन उस के लिए हमें स्थानीय Mandarin सामग्री की आवश्यकता होगी जिस पर हम काम कर रहे हैं. हमारे band agnostic approach और virtual delivery model का विश्व स्तर पर जबरदस्त स्वागत हुआ है और अब हम प्रमुख बाजारों में इस सफलता को दोहराने के लिए योजना बना रहे हैं।

New Enterprise Associates India के वरिष्ठ प्रबंध निदेशक बाला देशपांडे ने कहा,

हम GOQii की आश्चर्यजनक गति से होते हुए विकास के बारे में बहुत उत्साहित हैं और हमें विश्वास है की इस अतिरिक्त पूंजी के साथ कंपनी और भी तेजी से विकास करेगी.

इस पहनने योग्य डिवाइस का विक्रय 2015 में 76,100,000 यूनिट तक पहुंच जाएगा जो की 2014 से लगभग 164 प्रतिशत की वृद्धि है, दुनिया भर में पहनने योग्य डिवाइस का विक्रय 2019 तक 173,400,000 यूनिट तक पहुंच जाने की उम्मीद है फिर भी ये अभी भी एक बहुत नवजात बाजार है। हालांकि भारत को इस छेत्र में जल्दी कोई बड़ी उपलब्धि नही दिखने वाली है।

विश्व स्तर पर पहनने योग्य फिटनेस ट्रैकिंग उपकरणों के सन्दर्भ में मिसफिट एक महत्वपूर्ण स्थान रखती है। परंतु जब विश्व स्तर पर पहनने योग्य फिटनेस ट्रैकिंग उपकरणों के निर्माता की बात आती है तो फॉज़िल्स का नाम आता है जिसने मिसफिट का 260 मिलियन डॉलर के साथ अधिग्रहण कर लिया था।

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह साफ़ तरह से स्पष्ट हो गया है, की प्रौद्योगिकी विकास हमारी मानवता को पार कर चुका है |
अल्बर्ट आइंस्टीन