खबर स्टार्टअप्स

ओरिगा लीज़िंग को 500 स्टार्टपस और aH! वेंचर्स से $1 मिलियन का निवेश मिला

मुंबई की ऐसेट फ़ाइनैंसिंग कंपनी Origa Leasing ने 500 Startups, aH! Ventures व अन्य एंजल निवेशकों से $1 मिलियन (करीब ₹7 करोड़) का निवेश अर्जित किया है।

यह निवेश ऐसेट, लोग व तकनीक लीज़ करने में प्रयोग करेंगे। ऐसेट लीज़ कर के वित्तीय सहायता भारत में नया विचार है और Origa इस वैकल्पिक वित्त ईकोसिस्टम की गिनी चुनी कंपनियों में से एक है। Origa Leasing के निवेशक और बोर्ड मेम्बर उल्हास देशपांडे के मुताबिक:

यह एक ऐसे व्यापार मॉडल है, जो कि मध्यम-वर्गीय उद्यमियों को निवेश जुटाने में सहायता करता है।

Origa Leasing को शिर्रांग तांबे ने मार्च 2013 में “वित्त के ऐक्सेस” के एकमात्र उद्देश्य से बनाया था। यह स्वास्थ, सानिटेशन, वेस्ट मैनेजमेंट, वैकल्पिक ऊर्जा, उत्पादन व सेवा मुख्य व्यापारों को अपने लीज़िग के वाकल्पिक उपायों से निवेश उपलब्ध कराती है।

इसने ऐसेट लाईफ़ सायकल मैनेजमेंट (ALCM) का एक नायाब तरीका निकाला है, जिससे व्यापार का सारा भार Origa उठाये और उपभोगता अपना कैपिटल वर्किंग कैपिटल और प्रचार के लिये बचा सकें।

Origa के इस लीज़िंग उपाय से कंपनियों को वित्तीय रूप से बढ़ पाने में सहायता मिलती है, और, वह अपनी सेवाओं और सामानों की डिलिवरी का आखरी मील की तक बहतर तरीके से प्रयोग कर सकते हैं। एक तरीके से यह नये व्यापार और पारंपरिक वित्त सहायता के बीच की दूरी कम कर रहे हैं।

इंडस्ट्री रिपोर्टों के मुताबिक वैकल्पिक वित्त सहायता का बाज़ार करीब USD 50 बिलियन का है। अभी उपलब्ध वित्त सहायता और कंपनीयों की आवश्यक्ता में बहुत अंतर है। देशपांडे के अनुसार बाज़ार में संभावनाएं बहुत हैं, क्योंकि यूरोप की 46% SME फ़ाइनैंसिंग और अमेरिका की 72% SME फ़ाइनैंसिंग लीज़िंग से ही होती है, पर भारत में यह सिर्फ़ 1% का आंकड़ा है।


 

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह साफ़ तरह से स्पष्ट हो गया है, की प्रौद्योगिकी विकास हमारी मानवता को पार कर चुका है |
अल्बर्ट आइंस्टीन