ई-कॉमर्स खबर

ज़्यादा रेवेन्यू की तलाश में फूडपांडा ने लांच की ऑफिस खाना पहुँचाने की सुविधा

फ़ूड डिलिवरी क्षेत्र में लाभ कम ही मिल पाते हैं। यही कारण है कि FoodPanda जैसे बड़े-बड़े नाम भी लाभ के लिये और क्षेत्रों को ताक रहे हैं। इसी के चलते, Rocket Internet के इस ब्रांड ने अपने कॉर्पोरेट अकाउंट के लांच की घोषणा करी, जो कि मुख्यतः उन लोगों के लिये बनाया गया है, जहां कंपनियां ऑफ़िस में मंगाये भोजन का भुगतान करने की सुविधा देती हों।

यह कॉर्पोरेट अकाउंट सेवा भारत, सिंगापुर, हांग-कांग, इंडोनेशिया व फ़िलिपींस में अभी से उपलब्ध है। कंपनी जल्द ही यह प्रोडक्ट अपने बाकी के बाज़ारों में भी ले आएगी।

यह दावा किया जा रहा है कि यह कॉर्पोरेट प्रोडक्ट कंपनियों व किरमचारियों के ऑफ़िस में खाने मंगाने को आसान बनाने के लिये विशेश रूप से बनाया गया है। कंपनी अब बजट अलाउएंस, ऑर्डर फ़्रीक्वेंसी, दिन व समय निर्धारित कर कर्मचारियों के लिये बजट नियमों को निर्धारित व कंट्रोल करेगी।

यह कंपनी को भी बजट नियंत्रित करने में सहायता करती है। अधिकतम ऑर्डर वैल्यू या दोपहर व शाम के भोजन व सप्ताह व सप्ताह अंत के भोजन का अलग-अलग बजट निर्धारित करने की सुविधा भी उपलब्ध है। साथ ही, डीटेल ऑर्डर रिपोर्ट व इन्वॉइसें अकाउंटिंग को आसान भी बना देती है।

यह ऐसे डिज़ाइन किया गया है कि इसका गलत फ़ायदा नहीं उठाया जा सके। कागज़ी रसीदों की आवश्यक्ता दूर कर कर्मचारियों व अकाउंटिंग के समय बचत भी होती है।

कर्मचारी सह सर्मियों के साथ ग्रूप ऑर्डर दे सकते हैं और अलाउएंस मिला सकते हैं, साथ ही, बची कुची पेमेंट क्रेडिट कार्ड से कर सकते हैं। यह एक्सपेंस रिपोर्ट फ़ाइल कर पुनर्भुगतान की प्रतीक्षा करने से बहतर विकल्प है।

FoodPanda भारत के सी.ई.ओ. व FoodPanda ग्लोबल के सी.बी.ओ. सौरभ कोचर कहते हैं:

हम कंपनियों व कर्मचारियों के लिये यह नयी सेवा लाकर बहुत ही उत्साहित होगी। शोधों में यह पता चला है कि खाने से संबंधित सुविधायें मिलने से उनका काम के प्रति उत्साह बढ़ता है। हम इस प्रोत्साहन की हिस्सा बन कर बहुत अच्छा लग रहा है।

हाल ही में FoodPanda ने 1000 प्रतिभागियों पर एक शोध करवाया है, जिससे यह सिद्ध हुआ है कि निःशुल्ल भोजन कर्मचारियों के प्रोत्साहन का बहुत बड़ा स्त्रोत बन सकता है। यह ऑफ़िस द्वारा दी गयी सुविधाओं में सबसे ऊंचे स्थान पर आता है। कार्य के साथ पढ़ाई करने के लिये वित्तीय सपोर्ट और जिम की मेंबरशिप की सुविधायें इस सूचि में शामिल हैं।

इस समय भारत का भोजन का एग बड़ा बाज़ार है, जहां पर 200 शहरों में 12000+ रेस्त्रां के मीनू उपलब्ध हैं। इन्होंने TravelKhana.com व JustEat.in से भी साझा किया है, जिससे उनके उपभोगताओं को भोजन ढूंढ़ने और मंगाने में सुविधा हो।

2012 में शुरू किया गया यह स्टार्टप आज 40 देशों में सक्रीय है और अभी भारत के Zomato, TinyOwl व Swiggy जैसे स्टार्टपों से प्रतिद्वंद कर रहा है।

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह साफ़ तरह से स्पष्ट हो गया है, की प्रौद्योगिकी विकास हमारी मानवता को पार कर चुका है |
अल्बर्ट आइंस्टीन