खबर स्टार्टअप्स

डिजिटल स्वास्थ्य सेवा प्लेटफार्म Credihealth को Twitter भारत के इंजीनियरिंग निदेशक से मिला निवेश

Twitter India के इंजीनियरिंग के निदेशक रजत मल्होत्रा अब Credihealth के निवेशक बन गये हैं, जो कि एक ऐसा मंच है जहां आप चिकितसक से लेकर अस्पताल तक सब खोज सकते हैं।

निवेश के तहत मल्होत्रा ने एक गुप्त रकम का निवेश किया है। यह साइट सबसे जल्द बढ़ती हुई है, और इनका दावा है कि अकेले पिछले वर्ष इन्होंने 50,000 उपभोगताओं की सहायता की है। रजत कंपनी में भी हिस्सेदारी लेंगे और उनमें तकनीकी सुधार लाने में सहायता करेंगे।

भारत में लोग आज भी चिकित्सक के मामले में अपने दोस्तों व परिवार की राय लेना ज़्यादा उचित समझते हैं। यह न ही सिर्फ़ एक बिना भरोसे का व समय लेने वाला तरीका है, पर आपातकाल में यह और भी आवश्यक बन जाता है, जब रोगी को चिकित्सा की आवश्यक्त अधिक हो।

इसी दूरी को कम करने की कोशिश में Max Healthcare के पूर्व सी.ओ.ओ. रवी विर्मानी ने गौरव गग्गर व सौरभ उबोवेजा के साथ 2013 में Credihealth की स्थापना की थी, जिसके ज़रिये वह लोगों तक सही स्वास्थ्य संबंधित जानकारी पहुंचा सकें।

Credihealth का मुख्य उद्देश्य न सिर्फ़ उचित चिकित्सक की जानकारी देना है, बल्की पूरी चिकित्सा के दौरान उपभोगता की सहायता करना और फिर पूरी तरह ठीक होने के लिये अपने चिकित्सकों से इलाज करवाना भी है। Credihealth आपको चिकित्सा के विकल्प ढूंढ़ने, बराबरी करने व चुनने का आसान तरीका देती है। साथ ही, यदि आपको कोई दुविधा है तो आप साइट पर डाल सकते हैं, और आपको Credihealth से फ़ोन कर के सही जानकारी उपलब्ध करायी जाएगी।

रजत के निवेश के बारे में रवी विर्मानी, Credihealth के संस्थापक व एम.डी. ने कहा

हम रजत के हमारे साथ जुड़ने से बहुत ही उत्सुक हैं और हमें विश्वास है कि रजत हमारी स्वास्थ्य वेबसाइट Credihealth को नयी तकनीकों से जोड़ेंगे।

रजत मल्होत्रा ने पहले से सुनिश्चित बयान में कहा:

मुझे Credihealth से जुड़ कर बहुत खुशी है। यह एक ऐसे पड़ाव पर है, जहां यह जल्द बढ़ने की क्षमता रखती है। हर बार जब कोई अपना बीमार पड़ता है तो हम सही चिकित्सा ढूंढ़ते हैं, और कई बार हमें बहुत देर से पता चलता है कि हमारा चुनाव ग़लत था। Credihealth के साथ श्री विर्मानी यह बदलना चाहते हैं और इस कोशिश के साथ जुड़ कर मुझे अच्छा लग रहा है।

रजत ने आगे बताया कि भारत में चिकित्सा क्षेत्र 20% से अधिक की CAGR के साथ बढ़ रहा है, और टेलीमेडिसिन की जहां आज कीमत $7.5 बिलियन की है, अगले दो वर्षों में $18 बिलियन की होने की संभावना है।

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह साफ़ तरह से स्पष्ट हो गया है, की प्रौद्योगिकी विकास हमारी मानवता को पार कर चुका है |
अल्बर्ट आइंस्टीन