खबर डिजिटल इंडिया

प्राधानमंत्री मोदी २७ सितंबर को मेनलो पार्क स्थित फ़ेसबुक के मुख्यालय जाएंगे, करेंगे ज़करबर्ग के साथ लाइव प्रश्नोत्तर

भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 27 सितंबर को मेनलो पार्क, कैलिफ़ोर्निया स्थित फ़ेसबुक के मुख्यालय, मार्क ज़करबर्ग से प्रश्नोत्तर सत्र करने जाएंगे। इस खबर की घोषणा ज़करबर्ग ने अपने फ़ेसबुक अकाउंट से की।

ज़करबर्ग, जो कि फ़ेसबुक के सह-संस्थापक हैं, ने अपने फ़ेसबुक अकाउंट से सितंबर को मोदी के फ़ेसबुक मुख्यालय जाने की बात कही।

मुझे यह बताते हुए उत्सुकता हो रही है कि महीने के अंत में भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी फ़ेसबुक को मुख्यालय आ रहे हैं।

उत्तर में प्रधान मंत्री ने अपने फ़ेसबुक अकाउंट से ज़करबर्ग को धन्यवाद किया।

ज़करबर्ग ने कहा:

मुझे यह कहते हुए बहुत उत्साह हो रहा है कि 27 सितंबर को भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी टाउनहॉल प्रश्नोत्तर के लिये महीने के अंत तक हमारे मुख्यालय आ रहे हैं। हम सामाजिक और वित्तीय मुद्दों पर चर्चा करेंगे।

 

I'm excited to announce that Prime Minister Narendra Modi of India will be visiting Facebook HQ later this month for a…

Posted by Mark Zuckerberg on Saturday, September 12, 2015


हालांकि यह पहला वाक्य नहीं है जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी फेसबुक संस्थापक मार्क ज़ुकेरबर्ग से रूबरू होंगे। दोनों पिछले वर्ष अक्टूबर में मिले थे जब ज़करबर्ग प्रधानमंत्री के ऑफ़िस नयी दिल्ली आये थे। ज़करबर्ग ने आम लोगों को भी अपने प्रश्न भेजने का अनुरोध किया।

हम आपके प्रश्न सुनना चाहते हैं। कृपया आप उन्हें कमेंट में डालें और हम अधिकतम पर चर्चा करने की कोशिश करेंगे।

प्रश्नोत्तर सत्र को दोनों हस्तियों के फ़ेसबुक पेज पर डाला जाएगा। ज़करबर्ग के साथ प्रधानमंत्री 27 सितंबर को 10:00 IST से साथ रहेंगे।

प्रधानमंत्री भारत को डिजिटल बनाना चाहते हैं। इसी क्षेत्र पर, व मेक इन इण्डिया पर ज़करबर्ग से बात करेंगे। प्रधानमंत्री ने कुछ ऐसे क्षेत्र ढूंढ़े हैं जहां फ़ेसबुक कार्य कर सकता है। प्रधानमंत्री भारत को डिजिटाइज़ करने के लिये अग्रसर हैं और अपनी हाल ही के अबू धाबी दौरे पर उन्होंने इसी बात पर ज़ोर दिया।

यह खबर अंग्रेजी मैं पढ़ने के लिया यहां क्लिक करें ।

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह साफ़ तरह से स्पष्ट हो गया है, की प्रौद्योगिकी विकास हमारी मानवता को पार कर चुका है |
अल्बर्ट आइंस्टीन