एप्पल स्मार्टफोन्स

एप्पल ने लांच किये नए, एवं बेहतरीन आईफोन 6s और आईफोन 6s प्लस

Apple के iPhone 6S और iPhone 6S Plus आखिरकार आ गये। कुक ने यह कह कर शुरवात की कि iPhone 6 सबसे प्रतीक्षित iPhone है। नया iPhone देखने में बिलकुल iPhone 6 और iPhone 6 Plus जैसा है।

यह छोटे 6S और बड़े 6S Plus रूपों में उपलब्ध है। सिस्टम को Apple A9 प्रोसेसर पर बनाया गया है जो तीसरी पीढ़ी के 64-बिट चिपसेट के साथ आ रहा है, जो ‘रियल वर्ल्ड’ में चल सकता है।

यही नहीं, Apple के अनुसार ये नया प्रोसेसर नये ट्रांज़िस्टर बनावट पर आधारित है। यह पुराने A8 प्रोसेसर से 70% ज़्यादा तेज़ है और डेस्कटॉप जैसा चलता है। नये iPhone के ग्राफ़िक इसको पिछली पीढ़ी से बहतर बनाते हैं और आपको कंसोल स्तर का अनुभव कराते हैं।

नये iPhone 6S और 6S Plus में M9 को-प्रोसेसरो और दूसरी पीढ़ी का टच आई.डी. भी है। नया iPhone लेने का एक और कारण है इसका 12 मेगापिक्सल का iSight रियर सेंसर, जिसका ऑटोसेंसर बहतरीन है, और आपकी तस्वीर में जान डाल देग। एक ‘डीप ट्रेंच आइसोलेशन’ नाम की तकनीक भी इसमें डाली गयी है जो तस्वीर का रंग बहतर करेगा। साथ ही इसमें 4K भी है तो आप बहतरीन विडियो बना कर देख सकते हैं।

आगे के कैमरा की बात करें तो इसमें 5 मेगापिक्सल FaceTime HD है। इसमें Retina Flash नाम का फ़ीचर भी डाला गया है, जिससे आपकी सेल्फ़ी बहतर दिखेगी। साथ ही इसक डिस्प्ले तीन गुना चमकेगा, जिससे फ़लैश वाला इफ़ेक्ट आए।

इसमें लाइव फ़ोटो वाली सुविधा भी है। दरसल आपको कुछ करना नहीं है। यह अपने-आप चालू रहेगा और आपके हमेशा की तरह तस्वीर लेने के बाद आपको उसे 3D टच कर सकते हैं। यह काफ़ी हद तक HTC के Zoe की तरह है।

iPhones में 23 बैंडों और दुगनी गति सहित LTE भी है। Apple इसमें वाई-फ़ाई कि दुगनी गती का भी दावा करता है। आपको ऐड्राइड से iOS में आने में सुविधा हो इसलिये Apple ने Google के प्ले स्टोर में भी ऐप उतारा है। यही नहीं, आप Apple स्टोर में अपना ऐंड्राइड रीसाइकिल भी कर सकते हैं।

इन सब के इतर 3D टच Apple की सबसे बड़ा फ़ीचर है। यह नया फ़ीचर से आप अपने फ़ोन से अलग अलग संकेतों से बात कर सकते हैं। इनमें से दो को पीक और पॉप का नाम दिया गया है। 3D टच तस्वीरों, मेल आदि को डिस्प्ले पर ‘पॉप’ करती है, जो कि bokeh नाम के बैकग्राउंड इफ़ेक्ट पर आधारित है। यह तकनीक रेटीना डिस्प्ले (जो कांच और बैकलाइट के मध्य की दूरी नापती है) के साथ लगे कैपटिव सेंसरों से चलता है। एक काम करने के लिये धीरे छुएं और दूसरा काम करने के लिये ज़ोर से। Apple ने इस तरह से फ़ोर्स टच को अपनी जागीर बना लिया।

3D टच iOS 9 में इतनी अच्छी तरह डाला गया है कि आपको किसी गतिरोध का सामना न करना पड़े। आप जो दखें उससे कार्य कर सकें।
साथ ही Tapic Engine भी iPhone में आ रहा है। इससे आपके iPhone को मिनि टैप और बड़े टैप के बीच अंतर कर सकता है और विभिन्न कार्य कर सकता है।

नया iPhone 3 रूपों में उपलब्ध है- 16GB, 64GB और 128GB में और 2 साल के करार के तहत $199 में मिलेगा। जहां iOS 9, 16 सितंबर से बाज़ार में आएगा, वही नया iPhone 25 सितंबर से मिलना शुरू होगा।

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह साफ़ तरह से स्पष्ट हो गया है, की प्रौद्योगिकी विकास हमारी मानवता को पार कर चुका है |
अल्बर्ट आइंस्टीन