खबर स्टार्टअप्स

Zomato को नए निवेश के अंतर्गत मिले $६० मिलियन

अप्रैल में $50 प्राप्त करने के बाद, Zomato को नए निवेश के अंतर्गत मिले $६० मिलियन हैं| ये निवेश नये निवेशकों Temasek और पुराने मिवेशकों वाई कैपिटल से आए हैं। ये नये निवेश ख़ाने की ऐप्स में Zomato को अपना उच्च स्थान बनाए रखने में सहायक होगा। कंपनी ये नये निवेश अपनी डिलिवरी, भुगतान, टेबल बुकिंग और दूसरी जगहों पर लगा सकती है।

ज़ोमैटो की बाज़ार की कीमत अभी $1 बिलिलन है, नये निवेश से इसमें $220 मिलियन का का उछाल आयेगा। Sequoia इण्डिया व इंफ़ो एज जैसी बड़ी उपक्रम पुंजी कंपनियों नें ज़ोमैटो के शेयर खरीद, उनको बढ़ावा दिया है।

कंपनी अपने अंतर्गत 22 देशों में 1.4 मिलियन रेस्त्रां होने कै दावा करती है। कंपनी अपने लंबे एकीकरज्ण में भी सफलता देख रही है, जैसे इनका अर्बन स्पून खरीद कर बंद कर देना। Zomato कहती है कि उनके पास महीने के 90 मिलियन उपभोगता आते हैं।

Zomato के सी. ई. ओ. और सह- संस्थापक दीपिंदर गोयल कहते हैं:

हम इस निवेश को ऑनलाईन ऑर्डरिंग, टेबल बुकिंग, पॉइंट ऑफ़ सेल और हमारे नवीनतम ‘वाइटलेबल’ मंच पर प्रयोग करेंगे। इस सत्र के साथ ज़मैटो को अगले दो सालों तक निवेश की आवश्यक्ता नहीं है। हमें Temsek के साथ साझा कर बहुत अच्छा लग रहा है। हम अब दुनिया की सबसे बड़ी ख़ाना खोजने का मंच बनने के लिये उत्सुक हैं।

ज़ोमैटो सच में यही योजना बना रहा है क्योंकि वो अब अपनी सेवायें ऑस्ट्रेलिया और दक्षिण अफ़्रिका में महीने के अंत तक ला रही है। ज़ोमैटो की अपनी भुगतान सेवा है जो वो भारत के अलावा अन्य देशों में भी लाएगा, जहां द्वि नियोग लागू है।

लॉजिस्टिक्स एक ऐसा सेक्टर है जहां स्टार्टप नहीं चल पाते पर ज़ोमैटो नें लॉजिस्टिक्स डिलिवरी में निवेश की घोषणा कर ये चुनौती स्वीकार री है।
ज़ोमैटो नें शुरू से ही बाज़र की अगुवाई की है और अपने प्रतिद्वंदियों के लिये नये आयाम स्थापित किये हैं।

 

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह साफ़ तरह से स्पष्ट हो गया है, की प्रौद्योगिकी विकास हमारी मानवता को पार कर चुका है |
अल्बर्ट आइंस्टीन