एप्पल खबर

Apple अपने मशीन विद्या व ए. आई. विभागों को बना रहा है बहतर : Reuters रिपोर्ट

Reuters द्वारा जारी की गयी एक नयी रिपोर्ट के अनुसार, Apple  86 कृत्रिम बुद्धि और मशीन विद्या विषेशज्ञों को रखनें कि फिराक में है। ये iOS 9 तक भी सीमित हो सकता है, लेकिन खबर के अनुसार Apple अपने ए. आई. काबिलियत को सिर्फ सॉफ़्टवेयर तक नहीं सीमित रखेगा।

Apple अपने स्मार्टफ़ोन को और भी स्मार्ट बनाने की कोशिश कर रहा है, और इसी लिये अपने इस नए हायरिंग प्रोग्राम के चलते कंपनी ने पी. एच. डी. विषेशज्ञों को भी रख रहा है, जिसके लिये दर्जनों प्रचार किये हैं। Reuters की इस जानकारी की कई नौकरी साईटों और Apple के लोगों ने भी पुष्टी की है।

हालाँकि  iOS और iPhone के ए. आई. तकनीक को बढ़ाने का Apple का उद्देश्य है, साथ ही वह गूगल को उसी के स्मार्टफ़ोन और सॉफ़्टवेयर क्षेत्र में हराना भी चाहता है ।पर, कुछ विशेषज्ञ कहते हैं कि Apple की प्राईवेसी पॉलिसी इसको बाज़ार में पिछाड़ सकती है।

पिछली ख़बरों के अनुसार, Apple iOS 9 अपडेट के साथ उपभोगताओं के लिये ऐ.आई. पे आधारित कई नये फ़ीचर लाएगा।

जैसे कि आपका मेल और कैलेंडर आपके पूर्व कार्यों पर आधारित होगा। अगर आप किसी को ज़यादा मेल करते हैं, तो आगे से Apple आपको उनका नाम और संबंधित कांटैक्ट सुझाएगा। इसी तरह कैलेंडर भी आपकी पूर्व बैठकों के अनुसार आपकी आगे की बैठक फ़िक्स करेगा और इसे Siri से जोड़ देगा।

पर क्योंकि ऐप्पल अपने उपभोगताओं की गोपनीयता को उच्च स्तर देता है, उपभोगताओं से इतना ज़यादा डाटा ए. आई. और मशीन लर्निंग के लिये लेने के लिये इंहें अपने गोपनीयता नियमों में बदलाव लाने पड़ेंगे। मशीन लर्निंग दरसल उपभोगता से अत्याधिक जानकारी लेकर ही अपने आगे के कार्य निर्धारित करेगा।

यह खबर अंग्रेजी मैं पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें ।

 

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह साफ़ तरह से स्पष्ट हो गया है, की प्रौद्योगिकी विकास हमारी मानवता को पार कर चुका है |
अल्बर्ट आइंस्टीन